Skip to content

इस शख्स ने Ferrari से लिया था दोस्तों की मौत का बदला

किसी भी इंडस्ट्री में आपसी दुश्मनी कोई नई बात नहीं है. अक्सर ये दुश्मनी कारोबार में एक-दूसरे को पीछे छोड़ने के लिए होती हैं. लेकिन ऑटो जगत में एक अलग तरह का मुकाबला देखा गया. यह कोई रेसिंग मुकाबला नहीं था. ये मुकाबला था Ferrari और एक ऐसे शख्स के बीच जिसने Ferrari को कार रेस में हराने की कसम खाई थी. इस शख्‍स का नाम है carroll shelby. carroll shelby एक कार रेसर, एक मैकेनि‍क और एक बि‍जनेसमैन रहे जि‍न्‍होंने Ferrari से सीधा मुकाबला कि‍या. इसी दुश्मनी पर एक फिल्म भी बनी है जिसका नाम Ford Vs Ferrari है.

Ferrari के लि‍ए चलाई कार

carroll shelby इटालि‍यन डि‍जाइनर Enzo ferrari को हराना चाहते. उन्‍होंने यह काम aston martin के ड्राइवर के तौर पर 1959 में एफएआई वर्ल्‍ड स्‍पोर्ट्सकार चैम्‍पि‍यनशि‍प में Ferrari को हराया था. हालांकि, इसके बाद उन्‍होंने Ferrari के लि‍ए भी Formula 1 में कार रेस की थी.

Enzo Ferrari को पसंद नहीं करते थे Carroll

50 के दशक में Shelby ने ferrari के लि‍ए कई बार ड्राइव की थी और उनका रिश्ता ब्रांड के साथ काफी अच्‍छा था. लेकि‍न, 58 के फ्रेंच ग्रॉ प्री के दौरान उनके दोस्‍त Luigi Musso समेत कई ड्राइवर्स की मौत के बाद Shelby ने Enzo Ferrari को हराने का व्‍यक्‍ति‍गत मि‍शन बना लिया क्‍योंकि उन्‍होंने अपने दोस्‍तों की मौत का जि‍म्‍मेदार Enzo को ठहराया. Ferrari को ड्राइवर्स के साथ माइंड गेम और एक-दूसरे के खि‍लाफ मुकाबला करने के लि‍ए जाना जाता था ताकि कॉम्‍पीटि‍शन के लेवल को ऊपर रखा जा सके. 1960 की शुरुआत में ही Shelby ने अपनी Ferrari Killer, Shelby Daytona पर काम शुरू कर दिया.

Ferrari को हराने की खाई कसम

नाजी की ओर डेवलप की गई थि‍योरी का इस्‍तेमाल करते हुए Shelby ने Cobra Daytona पर काम शुरू कि‍या। Cobra Daytona एक पतली एरोडायनैमि‍क कार थी जो लंबे यूरोपीयन ट्रैक पर कॉम्‍पीटि‍शन में दूसरों को पछाड़ने के लिए काफी थी. वहीं, छोटे ट्रैक्‍स पर वह कम एरोडायमैनि‍क एफआईए का इस्‍तेमाल करते थे. इन दोनों के कॉम्‍बि‍नेशन ने Ferrari को हराने का काम कि‍या. इतना ही नहीं इस टेक्‍नोलॉजी को Shelby ने यूज कि‍या वह सक्‍सेस के लि‍ए बेंचमार्क बन गई.

Ford के साथ मि‍लकर Shelby ने बनाई GT

carroll shelby

60 के दशक की शुरुआत तक फॉर्मूला वन और मोटरस्‍पोर्ट्स रेसिंग में Ferrari को टक्‍कर देने वाला कोई नहीं था. अमेरि‍का की ऑटोमोबाइल कंपनी Ford कार रेसिंग में अपनी सफलता तलाश रही थी. लेकि‍न, Ferrari को हराना Ford के लि‍ए काफी मुश्‍कि‍ल हो रहा था। Ford ने Carroll Shelby की ओर से नि‍युक्‍त Ken Miles से मि‍टिंग की। Ken वर्ल्‍ड वार 2 के टैंक कमांडर थे जो बाद में स्‍पोर्ट्स कार रेसर बन गए थे। Miles उस वक्‍त देश के सबसे अच्‍छे ड्राइवर्स में से एक थे। Ford ने उन्‍हें GT40 को टेस्‍ट करने के लि‍ए कहा. तब Ford और Shelby टीम ने मि‍लकर GT40 को डेवलप कि‍या.

Shelby की मदद से Ford ने दी Ferrari को मात

carroll shelby

Carroll Shelby ने कार रेस को चैलेंज के तौर पर लिया. Shelby टीम की ओर से डेवलप और टेस्‍ट की गई GT40 को 1966 Le Mans में उतारा और इस कार ने इति‍हास बना दि‍या. पहले, दूसरे और तीसरे नंबर पर Ford रेसिंग टीम की ही कारें थीं और Ferrari आठवें नंबर पर रही.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: